Jamshedpur Today News : ASI धमेंन्द्र ने की वर्षा पटेल की हत्या

0 357

जमशेदपुर।

टेल्कों थाना अन्तर्गत  तार कंपनी गुरुद्रारा के पास स्थित तालाब के पास मिले बंद बोरे में मिले महिला की शव का उदभेदन पुलिस ने कर दिया है।महिला की हत्या साकची थाना  में पदस्थापित एस आई  धमेंन्द्र  कुमार सिंह ने की है। वही पुलिस ने धमेन्द्र कुमार सिंह को गिरफ्तार कर बिहार के भोजपुर के साहपुर से शहर लेकर आ गई है।

वही इस मामले की पुरा उदभेदन पुलिस ने कर दिया। सिटी एस पी सुभाष चन्द्र जाट ने सवाददाता सम्मेलन कर पुरे मामले की जानकारी दी।घटना के सबंध में सिटी एसपी ने बताया कि घटना के दिन एएसआई धर्मेंद्र कुमार सिंह वर्षा के घर बिष्टूपुर गया हुआ था। वहां से उसे लेकर अपने घर टेल्को क्वार्टर में गया था।यहां पर उसने पहले तो उसके साथ मारपीट की। इस बीच सिर को दीवार से टकराया और फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। एस पी के अनुसार एएसआई ने हत्या करने के बाद शव को बोरा में भर दिया था। इसके बाद बोरे की सिलाई भी की थी. शव को तार कंपनी के तालाब में ले जाकर फेक दिया, जबकि उसके सामानों को स्वर्णरेखा नदी में बहा दिया। साथ ही उसकी मोबाइल को बिष्टूपुर में ही एक झाड़ी में फेक दिया था।

उन्होंने बताया कि 18 नवबंर को सुबह  टेल्को के तार कंपनी के तालाब के पास बोरे में बंद एक अज्ञात महिला का शव बरामद किया गया था। उस महिला की पहचान बिष्टुपुर थाना क्षेत्र के साउथ पार्क की रहने वाली  वर्षा पटेल के रुप में की गई थी।इसके बाद टीम गठन किया गया तो पता चला साकची थाना में पदस्थापित ए एस आई धमेन्द्र कुमार सिंह  से इस महिला की आखिरी बार 12 नवंबर को बात हुई थी।उसी आधार पर पुलिस ने धमेन्द्र कुमार सिंह को गिरफ्तार किया। पुछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसने पुलिस को बताया कि वह उसे ब्लैक मेल के साथ साथ गांव घर जाने नही दे रही थी। इसी से परेशान हो कर उसे पीछा छुड़वाने के उद्देश्य से वर्षा पटेल की हत्या कर दी। और साक्ष्य छुपाने  के उद्देश्य से शव को बोरे में बंद कर तालाब के किनारे फेंक दिया था। एस पी ने बताया कि  वही उसके पास से मृतिका वर्षा पटेल का मोबाइल फोन , शव को छिपाने में प्रयुक्त किया गया थैला जैसी थैली,शव को ढोने के लिए उपयोग किया गया पैशेन मोटर साईकिल,साथ में मोबाइल फोन भी बरामद किया गया।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More