तीन साल के बच्चे का अपहरण का मामला का पुलिस ने किया खुलासा

24 घंटे के अंदर बच्चा ह बरामद
आरोपी गिरफ्तार, पङोसी ही निकला अपहरण कर्ता
सवाददाता.जमशेदपुर,16 दिसबंर
तीन साल का मासूम आदित्य अपने घर के बाहर खेल रहा था. काफी देर होने पर भी जब वह घर नहीं पहुंचा तो घरवालों ने उसकी तलाश की. इस बीच उसके पिता संजय कुमार झा की मोबाइल पर आए एक कॉल ने तो जैसे घर में कोहराम मचा दिया. इसके बाद पुलिस को इंफॉर्म किया गया. इस बार पुलिस की भी दाद देनी होगी, क्योंकि आम तौर पर मामले को कल पर टालने वाली पुलिस तत्काल एक्टिव हुई और कुछ घंटों के भीतर ही आदित्य को किडनैपर के चंगुल से छुड़ा लिया गया और उसका किडनैपर भी अरेस्ट हो गया.

घर के बाहर खेल रहा था आदित्य
घटना के संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक बर्मामाइंस थाना एरिया स्थित लांगटांग बस्ती निवासी संजय कुमार झा पूरोहीत का काम करते हैं. उनका एक तीन साल का बेटा है आदित्य जो मंडे को लगभग 3.30 बजे घर के बाहर खेल रहा था. 4 बजे तक जब वह वापस घर नहीं लौटा तो घरवालों ने उसकी तलाश शुरू की.

किडनैपर ने कॉल कर दी धमकी
इस बीच लगभग 05.05 बजे संजय झा को उनकी मोबाइल पर कॉल आया. कॉल करने वाले ने धमकी देते हुए कहा कि उनका लड़का उसके पास है, बॉस के आने के बाद वह उनसे बात कराएगा. उसने पुलिस को सूचना न देने की धमकी भी दी. सोच-विचार में डूबे संजय झा ने तत्काल बर्मामाइंस पुलिस को इंफॉर्म किया. इसके बाद मामले की जानकारी एसएसपी को दी गई. जानकारी मिलते ही एसएसपी ने तत्काल एक टीम गठित कर जांच के लिए लगा दिया.

शंकर-पार्वती बस से बच्चे को ले जाया जा रहा था भागलपुर
इसके बाद पुलिस ने टेक्निकल सेल की मदद से मोबाइल को ट्रेस करना शुरू किया तो पता चला कि बच्चे को बिहार ले जाया जा रहा है. इसके बाद पुलिस ने बस स्टैंड से मामले की जानकारी ली. इसके बाद जांच के क्रम में पुलिस ने भागलपुर जाने वाली शंकर पार्वती बस को आईडेंटीफाई किया.

धनबाद से बच्चे को किया गया रिकवर
पुलिस ने पता किया तो जानकारी मिली कि बस धनबाद के आस-पास पहुंची है. इसके बाद धनबाद एसपी को इंफॉर्म किया गया. इसके बाद धनबाद के महुदा थाना एरिया में बस को रोककर जांच की गई तो बच्चे को बस से बरामद कर लिया गया. पुलिस ने उसके किडनैपर दीपक कुमार मिश्रा को भी अरेस्ट कर लिया.

पैसे न मिलने पर थी बच्चे के हत्या की योजना
एसएसपी अमोल वी होमकर ने बताया कि किडनैपर दीपक मिश्रा बच्चे के पड़ोस में ही रहता है. उसने बताया कि उसे पैसों की जरूरत थी, इसलिए उसने बच्चे को किडनैप किया. दीपक बच्चे को लेकर भागलपुर जा रहा था. वहां से वह उसकी फैमिली से पैसों की मांग करता. उसने कहा कि अगर उसे पैसे नहीं मिलते तो वह उसकी हत्या कर देता. पुलिस ने दीपक के पास मोबाइल व सीम रिकवर कर लिया है.
———————

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More