कमल की गिरफ्तारी को प्रधानमंत्री कार्यालय खटखटायेंगे निवेशक

33

कमल और उसके भाई दीपक को जल्द गिरफ्तार किया जाए – निवेशक
संतोष अग्रवाल,जमशेदपुर , 08 दिसबंर
जमशेदपुर के जादूगोड़ा के चिटफंड किंग कमल सिंह के गिरफ्तारी नही होने से निवेशको की आस टुटने लगा है जिला पुलिस के द्वारा अभी तक इस मामले मे कोई कारवाई नही किये जाने से पुलिस से इनका विश्वास उठने लगा हैं.और निवेशक इस मामले को लेकर प्रधानमंत्री को पत्र लिखने का निर्णय लिया हैं। वही इस मामले को लेकर यूसील नरवा पहाड़ में दुर्गा पूजा पंडाल में निवेशको की बैठक सुधन चन्द्र सोरेन की अध्यक्षता में हुई। बैठक में निर्णय लिया गया कि बडे बडे चिटफंड कंपनी को प्रशासन द्वारा पकड़ा जा रहा है और उन कंपनियों के निदेशको को जेल भेजा जा रहा है तो कमल सिंह किस खेत की मुली है जो अब तक प्रशासन के गिरफ्तार नही हो पा रहा है।
वही बैठक के दौरान निवेशकों द्वारा एक कमेटी का गठन किया गया है इस कमेटी का नाम राज कॉम चिटफंड निवेशक संघ रखा गया है। इस संघ द्वारा गांव गांव में जाकर निवेशको को एकजूट करने का काम किया जाएगा और कमल सिंह के विरुद्ध आदोलन करके प्रशासन पर दबाव बनाएगें की जल्द से जल्द कमल सिंह को गिरफ्तार करें।
निवेशको द्वारा निर्णय लिया गया कि राज कॉम चिटफंड निवेशक संघ एक प्रतिनिधि मंडल द्वारा उपायुक्त को एक ज्ञापन देकर एक माह के अन्दर कमल सिंह और उनके भाई दिपक सिंह को गिरफ्तारी करने की मांग करगें एवं एक माह के अन्दर गिरफ्तार नहीं हुआ तो दूसरे दिन से घरना में प्रतिनिधि मडंल बैठ जाएगो तथा दूसरे प्रतिनिधि मंडल के टीम प्रधानमंत्री कार्यालय जाकर कमल सिंह के वीरुध कारवाई करने की मांग करेगें।
इस मौके पर प्रकाश सिंह, प्रमोद कुमार, एसके झां, राज नारायण प्रसाद, एसएन प्रसाद, ए प्रसाद, हरी दास, प्रमिला दत्ता, जेसी सिंह, डीएन मंडल, सूधीर दास, सुबल सिंह, सीएस पंडित, एम हो, आर बी महतो, टीपी नंदी, आर शर्मा, सुवीर हांसदा, आदि शामिल थे।
गौरतलब है कि जमशेदपुर के जादुगोङा और आस पास ग्रामीण क्षेत्रो से कमल सिह ने चिटफंड के नाम पर कऱोङो रुपया लेकर फरार हो गया है उसके फरार होने से एक साल हो गया लेकिन पुलिस अभी तक कमल औऱ उसके भाई को पकङने मे सफलता प्राप्त नही की है।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More