हुदहुद का असर जमशेदपुर मे भी ,कई पेङ पौधो टुटे ,आज भी एक दर्जन ट्रेने मार्ग बदल कर चली

 

संवाददाता,जमशेदपुर,13 अक्टुबर

समुद्री तूफान हुदहुद जमशेदपुर में असर दिखा ।हालाकि जानमाल की नुकसान कही से नही होने की खबर हैं।शहरी क्षेत्रो मे बङे  बङे पेङ गिर जाने के कारण कई स्थानो में मार्ग अपवरुद्ध हो गया था।इसके अलावे बारीडीह ,बिरसानगर और मानगो क्षेत्र मे कई कच्चे मकान भी गिर पङे । हुद हुद के काऱण जमशेदपुर और इसके आस पास क्षेत्रो मे जमकर बारिश हुई ।

जड़ से उखड़े पेड़, टूटी टहनियां

तेज बारिश व हवा के कारण कई पेड़ जड़ से उखड़ गए. पेड़ की टहनियां टूट-टूट कर रोड पर गिर गई थीं, जिससे रोड जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई. हालांकि सुबह में रोड पर से पेड़ की टहनियों को हटाने का काम शुरू हो गया और घंटों प्रयास के बाद रास्ता साफ कर दिया गया. हालांकि इससे हुए नुकसान के कारण लोग काफी परेशान रहे. गोलमुरी पुलिस लाइन के पास रोड के दोनों ओर खड़े पेड़ जड़ से उखड़कर गिर गए तो पेड़ की जो टहनियां रोड तक फैली थीं, वह भी टूट गई. इसके अलावा बिष्टुपुर स्थित बगीचा नर्सरी के पास भी पेड़ उखड़ गए व टहनियां टूट गई. इस कारण बाउंड्रीवॉल भी ध्वस्त हो गए. हालांकि बाद में साफ-सफाई का सिलसिला भी शुरू हो गया, ताकि स्थिती सामान्य किया जा सके.

 

घरों के उड़े छत, घुसा पानी

तेज हवा व बारिश के कारण बिरसानगर जोन नंबर 8 में 6 घरों के छत उड़ गए. इससे लोगों को लाखों रुपए का नुकसान हुआ. वहां रहने वाले लोगों ने भागकर दूसरी जगह शरण ली. इसके अलावा रमणी फ्लैट के आस-पास के एरिया में भी कई घरों में पानी घुस गया, जिस कारण लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी.

 

टिनप्लेट में घरों में घुसा पानी

इसके अलावा टिनप्लेट गोल्फ ग्र्राउंड के पास रहने वाले लोगों के घरों में भी पानी घुस गया. कई लोगों ने आंधी व बारिश को देखते हुए राशन खरीद लिया था, जो पानी में बह गया. कई ऐसे भी लोग थे जो रात में पलंग पर सोए थे, लेकिन सुबह में उठे तो देखा कि उनका पलंग पानी में तैर रहा है. इसके बाद किसी तरह लोग वहां से निकले व पानी को बाहर निकालने का इंतजाम किया. जानकारी के मुताबिक यहां के लगभग 15-20 घरों में पानी घुस गया था.

 

कई लोग पानी में बहे, स्थानीय लोगों ने बचाया

स्थानीय लोगों ने बताया कि आंधी व बारिश के कारण गोल्फ ग्र्राउंड की दिवार टूट गई. इसके बाद वहां जमा पानी काफी तेजी से निकला. यहां रहने वाली एक 60 साल की वृद्धा कांति महतो पानी के तेज बहाव में बहने लगी. किसी तरह लोगों ने उसे बचाया. इस दौरान महिला को काफी चोट भी आयी है. इसके अलावा दो बच्चे भी पानी में बहने लगे थे, जिन्हें स्थानीय लोगों की मदद से बचाया गया. इसके अलावा साकची गौशाला के पास घर की दिवार टूट कर गिर गई. हालांकि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ.

 

रोड पर पानी जमने से फंसे  गाङियां

सिटी में तेज बारिश होने के कारण कई जगहों पर रोड पर पानी भर गया. इस कारण लोगों को बाहर निकलने में भी प्राब्लम फेस करनी पड़ी. कई जगहों पर तो कार व दूसरी व्हीकल रोड पर जमे पानी में ही घंटों फंसी रही. बाद में पानी उतरने के बाद किसी तरह उसे बाहर निकाला गया.

 

ग्रामीण क्षेत्र

जमशेदपुर के बहरागोङा,घाटशिला ,चाकुलिया और जादुगोङा जैसे ग्रामीण क्षेत्रो मे बारिश का असर दिखा ,भारी बारिश होने के काऱण ग्रामीण ईलाको के निचले क्षेत्रो पानी भर जाने के कारण ग्रामीणो के आने जाने में काफी परेशानी हो रही थी ।वैसे जिला प्रशासन किसी भी स्थिती से निपटने के लिए तैयार था।

वही जिला प्रशासन नें हुदहुद के तुफान देखते हुए निजी और सरकारी स्कुल को बंद करने का आदेश दे दिया था ।शहर और ग्रामीण क्षेत्रो के सारे स्कुल बंद थे।

रेल मार्ग आज भी प्रभावित

हुदहुद के कारण बंगाल से खुलकर ओङीसा होते हुए दक्षिण को जाने वाली एक दर्जन ट्रेने आज भी टाटानगर स्टेशन हो कर ही गई ।और टाटानगर से विशाखापत्तनम एक्सप्रेस आज रद्द रही ।जबकि टाटानगर से चलकर एलेप्पी एक्सप्रेस आज भी मार्ग परिवर्तन कर गई

बस स्टैण्ड

जमशेदपुर के मानगो बस स्टैण्ड से ओङीसा की जानेवाली बसे आज भी कम गई ,.गौरतलब है कि जमशेदपुर से ओङीसा की ओर एक दर्जन से भी अधिक बसे रोजाना आना –जाना करती हैं,.

 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More