G20: मुंबई में मेगा बीच क्लीन अप इवेंट के साथ ECSWG बैठक शुरू, ब्लू इकोनॉमी के पहलुओं पर हुई चर्चा 

पर्यावरण और जलवायु सतत कार्यकारी समूह की तीसरी बैठक (ECSWG ) मुंबई में शुरू हुई

203

मुंबई। ब्लू इकोनॉमी पर ध्यान केंद्रित करने के लिए तीसरी G20 पर्यावरण कार्य समूह (ECSWG) की बैठक रविवार से मुंबई में शुरू हुई।    21 से 23 मई तक आयोजित यह तीन दिवसीय बैठक जुहू में समुद्र तट की सफाई पर एक साइड इवेंट के साथ शुरू हुई जिसके बाद Ocean 20 डायलॉग का आयोजन किया गया। इंडोनेशिया प्रेसीडेंसी डायलॉग के दौरान लॉन्च किए गए Ocean 20 प्लेटफॉर्म का उद्देश्य महासागर समाधान के लिए विचार और कार्रवाई को आगे बढ़ाना है।

बैठक के पहले दिन के सत्रों में ब्लू इकोनॉमी के विभिन्न पहलुओं को शामिल किया गया और पहला सत्र विज्ञान प्रौद्योगिकी और नवाचार पर आयोजित किया गया। इसके बाद, समुद्री अर्थव्‍यवस्‍था के लिए नीति, सरकार की सहकारिता और वित्‍त व्‍यवस्‍था प्रणाली स्‍थापित करने से जुड़े मुद्दों पर विचार किया गया। दूसरा सत्र नीति, शासन और भागीदारी पर आयोजित किया गया जबकि तीसरे और अंतिम सत्र में ब्लू इकोनॉमी के लिए ब्लू फाइनेंस मैकेनिज्म स्थापित करने पर चर्चा की गई। बाद में, मुंबई में समुद्र के समाधान और पर्यावरण के लिए विचार और कार्रवाई को आगे बढ़ाने पर ध्यान देने के साथ पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने  ‘Ocean 20 संवाद’ की मेजबानी की।

 

इम मौके पर पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम. रविचंद्रन ने संवाद को संबोधित करते हुए कहा कि ‘Ocean 20 डायलॉग’ विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों और नीति निर्माताओं को एक साथ लाएगा और उभरते विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार से संबंधित पहलुओं, प्रभावी से जुड़ी चुनौतियों पर चर्चा की सुविधा प्रदान करेगा। साथ ही समावेशी नीति और शासन और राष्ट्रीय और क्षेत्रीय नीली अर्थव्यवस्था प्रयासों का समर्थन करने के लिए वित्त तंत्र स्थापित करेगा। पर्यावरण और जलवायु स्थिरता पर कार्य समूह की तीसरी बैठक अगले दो दिनों में G-20 देशों के बीच आम सहमति के लिए मंथन के लिए मसौदा मंत्रिस्तरीय बैठक की रूपरेखा पर चर्चा करेगी।

इससे पहले महाराष्‍ट्र के राज्‍यपाल रमेश बैस, केन्‍द्रीय पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन राज्‍य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे और महाराष्ट्र के मुख्‍यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ-साथ G-20 बैठक में शामिल हो रहे विभिन्‍न देशों के प्रतिनिधि मंडल के सदस्‍यों ने समुद्र तट स्‍वच्‍छता अभियान में भाग लिया।

वहीं G20 इंडिया प्रेसीडेंसी के तहत तीसरी ईसीएसडब्ल्यूजी बैठक के अवसर पर आयोजित साइड इवेंट के दौरान रेत कलाकार सुदर्शन पटनायक ने तटों और महासागरों की रक्षा के लिए G20 देशों के सामूहिक प्रयास को मनाने के लिए जुहू में एक सुंदर रेत कला बनाई। कार्यक्रम की शुरुआत पर्यावरण की सुरक्षा की शपथ लेने के साथ हुई। समुद्र तट स्‍वच्‍छता अभियान का उद्देश्‍य तटों और समुद्रों की सुरक्षा के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाना है। तीसरी ECSWG बैठक G20 देशों, आमंत्रित देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के सतत और लचीले भविष्य के प्रयासों को बढ़ावा देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इससे पहले पर्यावरण और जलवायु स्थिरता कार्य समूह की पहली बैठक नौ से 11 फरवरी तक बेंगलुरु में आयोजित की गई थी जबकि दूसरी बैठक गांधीनगर में आयोजित की गई।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More