दुमका लोकसभा चुनाव में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण अबकी नोटा खोलेगी नेताओं की लोकप्रियता की पोल

अजीत कुमार.जामताड़ा.23 मार्च.
लोकसभा चुनाव २०१४ में दुमका संसदिये क्षेत्र में युवाओं की भूमिका काफी
महत्वपूर्ण होगी. अबतक के चुनाव में रिजल्ट को जामताड़ा जिला प्रभावित
करता रहा है. पिछले चुनाव में जामताड़ा और नाला विधानसभा की भूमिका
निर्णायक रही थी. इन्ही दोनों विधानसभा ने गुरु जी की जीत पक्की की थी.
मतदाताओ ने जमकर वोट डाला था. गुरु जी को जामताड़ा विधानसभा से ४२,६६२ तथा
नाला विधानसभा से ३२,५६४ वोट मिले थे, जबकि भाजपा प्रत्यासी सुनील सोरेन
को जामताड़ा में ३११९१ तथा नाला में ३३६९० वोट पड़े थे.

वावजूद इसके कुल वोट का प्रतिशत काफी कम था. मात्र ५० फीसदी मतदाता अपने
मताधिकार का प्रयोग जिए थे. इस बार जिला प्रशासन ने मतदाताओ को जागरूक
करने हेतु स्वीप के तहत अभियान चला रही है. आर ओ चरशेखर ने मतदाताओ खाशकर
युवाओं से सुदृढ़ प्रजातंत्र के निर्माण में बढ़-चढ़ कर निष्पक्ष मतदान करने
की अपील की है.
मजे की बात है की इस बार जामताड़ा में चुनाव कार्य में सम्मलित सभी
प्दैकारी भी युवा है, ऐसे में युवाओं के तरफ उनका रुझान ज्यादा है.
युवाओं को जागरूक करने के लिए प्रशासन ने कैंपस अम्बेसडर की
प्रतिनियुक्ति की है जो युवाओं के साथ महिला मतदाता को भी न केवल जागरूक
करेगी बल्कि मुखर होकर मतदान करने को प्रेरित करेंगे. डी सी चंद्रशेखर
ने मतदाताओ से लोकतंत्र में नैतिक जिम्मेवारी का निर्वाह नारने और वोट
करने की अपील की है. उप निर्वाचन पदाधिकारी विजय कुमार गुप्ता ने बताया
की जो मतदाता किसी को वोट नहीं करना चाहते है वो मतदान स्थल पर जाने के
बाद मतदान नहीं करने के नियम ४९ के तहत नोटा बटन का प्रयोग कर अपनी बात
रख सकते है. साथ ही १९५० टोल फ्री नंबर किसी प्रकार की शिकायत चुनाव आयोग
से मतदाता कर सकते है.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More