चाईबासा-उधर अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर भूमि पूजन के साथ शिलान्यास किया तो वहीं भगवान जगन्नाथ के धरती पर जगन्नाथपुर के हनुमान मंदिर में हुई पुजा अर्चना, बड़ाजामदा में बांटा गया भोग

110

बुधवार को आयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर भूमि – पूजन किया गया वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका शिलान्यास अयोध्या में किया तो पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा जिले में भी हर जगह राम भक्तों ने माहौल को राममय कर दिया।इसी राममय के साथ कोलहान प्रमंडलीय पश्चिमी सिंहभूम जिले के चाईबासा, चक्रधरपुर, जगन्नाथपुर तो सारंडा जैसे क्षेत्रों में भी राममय का माहोल देखा गया।इधर जिलों में भव्य आयोजन किया गया . इसमें काफी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया और हर किसी ने जयश्रीराम का उदघोष किया। दुसरी ओर भगवान राम का जगन्नाथपुर अनुमंडल से वनवास काल के समय गहरा नाता रहा है जिसके कारण जगन्नाथपुर प्रखंड मुख्यालय के रामतिर्थ मंदीर काफी चर्चित है।उसी चर्चित भगवान जग्रन्नाथ के धरती पर जगन्नाथपुर से मोंगरा की ओर जाने वाली मुख्यमार्ग के अधीन पड़ने वाली शिव मंदिर के पास हनुमान मंदीर में जयश्री राम के उद्दघोष के साथ बड़ी संख्या में महिलाओं ने पुजा अर्चना की और जयश्री राम के जयकार से गुंज उठा हनुमान मंदीर।

श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर भूमी पूजन के बाद जगन्नाथपुर में राम भक्तों नें 10 हजार दिया जलाने की तैयारी

अयोध्या में श्रीराम का मंदिर निर्माण को ले हुई भूमि पूजन के बाद जहां पुरे देश में खुशी का माहौल बना वहीं राम भक्तों नें जगन्नाथपुर में दस हजार दिये जलाने की व्यवस्था कर रखी है। हर घर में दिया जलेगी।वैसे तो पूरे जिलें में खुशी मनाया जायेगा।

सारंडा के बड़ाजामदा में भोग का हुआ वितरण

आयोध्या में श्रीराम मंदीर निर्माण को लेकर हुई भूमी पुजन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा शिलान्यास करते ही सारंडा के बड़ाजामदा क्षेत्र में राम भक्तों नें बुधवार को राम जन्म भूमि पूजन के शुभ अवसर पर बड़ाजामदा मेन रोड पर बसंत गुप्ता जिला परिषद सदस्य शंभू हाजरा एवं प्रकाश गुप्ता, हन्सु अग्रवाल, मिंटू अग्रवाल लालू गुप्ता एवं छोटु गुप्ता के सहयोग से जामदा वासियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए भोग का वितरण करवाया गया।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More