मोदी के भरोसे चुनावी नैया होगी पार

रांची : भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की लहर पर
सवार हो चुनाव नैया पार लगाने की जुगत में जुटे भाजपा नेताओं ने अपनी
दावेदारी को लेकर लाबिंग तेज कर दी है। प्रदेश कार्यालय में लोकसभावार
पहुंच रही दावेदारों की सूची लंबी होती जा रही है। सात या आठ मार्च को
होने वाली प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में इन प्रत्याशियों की गंभीरता पर
विचार विमर्श किया जाएगा। चुनाव समिति अपनी रिपोर्ट केंद्रीय चुनाव समिति
को भेजेगी। हालांकि, चुनाव के लिए मजबूत दावेदारों के चयन की कवायद भाजपा
में कई स्तर से की जा रही है। प्रत्याशियों के चयन के लिए गठित चुनाव
समिति के फीड बैक के अलावा पार्टी ने निजी एजेंसियों की मदद भी ली है,
संघ की रिपोर्ट तो है ही। 1भाजपा में मौजूदा सांसदों की दावेदारी
अपेक्षाकृत अधिक मजबूत है। इनमें लोकसभा उपाध्यक्ष कड़िया मुंडा,
हजारीबाग सांसद यशवंत सिन्हा, गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे, धनबाद सांसद
पीएन सिंह, गिरिडीह सांसद रवींद्र पांडेय को तय माना जा रहा है। वहीं,
राजमहल सांसद देवीधन बेसरा और लोहरदगा सांसद सुदर्शन भगत की दावेदारी
शत-प्रतिशत होने में संदेह है। पार्टी मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए
इनके नामों पर पुनर्विचार कर सकती है। लोहरदगा से दुखा भगत और दिनेश
उरांव भी गंभीर प्रत्याशी के रूप में सामने आ रहे हैं वहीं राजमहल से
ताला मरांडी और सोम मरांडी जैसे विकल्प भी पार्टी के पास खुले हैं। कभी
भाजपा की परांपरागत सीट मानी जाने वाली जमशेदपुर सीट को लेकर खासी
खींचतान हैं। नेता विधायक दल अजरुन मुंडा के चुनाव से दूरी बनाने के एलान
के बाद आभा महतो, अमरप्रीत सिंह काले, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिनेशानंद
गोस्वामी जैसे नाम सामने आ रहे हैं। आइएएस अधिकारी विमलकीर्ति सिंह के
सामने भी जमशेदपुर का प्रस्ताव है। लोहरदगा से संभावित दावेदार माने जा
रहे आइपीएस अरुण उरांव के मामले में कुछ ऐसी ही स्थिति है। हां, पलामू से
रिटायर्ड आइपीएस बीडी राम की स्थिति अपेक्षाकृत अधिक मजबूत है। यहां से
ब्रजमोहन राम भी दावेदार बताए जाते हैं। रांची से पूर्व सांसद रामटहल
चौधरी के अलावा सीपी सिंह का नाम भी गंभीर उम्मीदवार के रूप में सामने आ
रहा है। इन दोनों के अलावा रांची से दर्जन भर लोगों ने अपना दावा ठोका
है। प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र राय स्वयं कोडरमा से भाग्य आजमाना चाहते हैं,
यहां से कांग्रेस विधायक दल के पूर्व नेता मनोज यादव भी अपनी उम्मीदवारी
के लिए लाबिंग कर रहे हैं। दुमका सीट से राष्ट्रीय मंत्री लुइस मरांडी और
सुनील सोरेन जैसे नामों की चर्चा हैं। वहीं, चतरा संसदीय सीट को लेकर
भाजपा इंदर सिंह नामधारी को मनाने की कोशिशों में जुटी हुई है। चतरा में
प्रदेश महामंत्री सुनील सिंह, युगल किशोर खंडेलवाल और सत्यानंद भोक्ता भी
टिकट की दौड़ में शामिल बताए जाते हैं। सिंहभूम से भाजपा विधायक बड़कुंवर
गगराई और लक्ष्मण गिलुआ का नाम सामने आ रहा है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More