जादूगोड़ा की बेटी ने मेडिकल की कठिन परीक्षा मे लहराया परचम

जादूगोड़ा संवादाता
जादूगोड़ा हेल्थ फ़िज़िक्स मे कार्यरत अरुण कुमार दिवेदी एवं अनीता दिवेदी की छोटी बेटी रुही दिवेदी ने ऑल इंडिया प्री मेडिकल टेस्ट के कठिन परीक्षा मे सफलता हांसील करते हुए पूरे भारत मे जेनरल कटेगारी मे 2332 एवं झारखंड मे 48 वां स्थान लाया है । इस परीक्षा मे पूरे देश से कुल 6 लाख से अधिक परीक्षार्थियों ने भाग लिया था रुही के इस सफलता ने पूरे जादूगोड़ा का मान देश मे बढ़ा दिया है उसकी सफलता से परिवरा के लोग बहुत खुश है ।
रुही बचपन से ही मेघावी छात्रा रही है और उसने 12 वी के परीक्षा मे भी 94 % अंक लायी है और वो परमाणु ऊर्जा केंद्रीय विद्यालय की छात्रा है , उसने मेडिकल परीक्षा की तैयारी एलेन कोटा से किया है ।
रुही ने बताया की उसका बचपन से ही डॉक्टर बनने का सपना रहा है और वह डॉक्टर बनकर गरीबो की सेवा करना चाहती है उसने बताया की वो रोजाना 6 घंटे पढ़ाई करती थी उसने अपनी सफलता का श्रेय अपने पापा अरुण कुमार दिवेदी को दिया एवं बताया की स्कूल के केमेस्ट्री शिक्षक तरुण कुश ने बहुत सहयोग किया और होंसला बढ़ाया एवं बीएन झा आदर्श है ।
रुही के पिताजी अरुण कुमार दिवेदी ने बताया की उनकी दो बेटियाँ है एक इतिशा और दूसरी रुही ईशिता मुंबई से बीएससी कर रही है , उन्होने रुही के के बारे मे बताया की रुही का बिहार मेडिकल मे सेलेक्सन हो गया है और रविवार को जीपमर ( जवाहरलाल इंस्टीच्युट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेसन एंड रिसर्च ) कोलकाता मे टेस्ट दिया एवं ऑल इंडिया एग्रीकल्चर मे उसने पूरे देश मे 302 वां स्थान लाया है ।
apne mata pita aur bahan ke sath ruhi diwedi

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More