15 फरवरी को राष्ट्रपति भवन के “उद्यानोत्सव” की शुरुआत करेंगे राष्ट्रपति

भारत के राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी 15 फरवरी, 2014 को शाम 5 बजे राष्ट्रपति भवन के वार्षिक “उद्यानोत्सव” का शुभारंभ करेंगे।

अगले दिन 16 फरवरी से विश्व प्रसिद्ध मुगल गार्डन आम जनता के लिए खुल जाएगा। जनता 16 फरवरी से 16 मार्च, 2014 (सोमवार को छोड़कर) के बीच सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक इसकी खूबसूरती का आनंद ले सकती है। लोग मुगल गार्डन के अलावा स्प्रिचुअल गार्डन, हर्बल गार्डन, बोन्साई गार्डन, बायो डायवर्सिटी पार्क और म्यूजिकल फाउंटेन का लुत्फ भी उठा सकेंगे।

इस साल के उद्यानोत्सव का मुख्य आकर्षण ट्यूलि‍प हैं जिन्हें वि‍भि‍न्‍न चरणों में लगाया जाएगा। गार्डन में इस बार लाल, नारंगी, पीले और सफेद मि‍श्रि‍त रंगों के करीब 5000 ट्यलि‍प देखने को मि‍लेंगे । राष्ट्रीय भवन के मुख्‍य बगीचे में शानदार डिजाइन वाला फूलों वाला कारपेट बिछा होगा जिसमें राष्ट्रपति भवन के मालियों की कुशलता नजर आएगी। इस साल के सजावटी फूलों में पीला रंग प्रमुख है। पिछले वर्षों की तरह ही इस बार भी कैक्टस देखने को मिलेगा। इस बार पौधों के प्रेमियों को कम मिट्टी में सब्जियों की खेती जैसे नए तौर तरीके देखने को मिलेंगे। साथ ही खड़ी दीवार के साथ पौधे उगाने की तकनीक का नजारा भी दिखेगा।

आम लोगों का प्रवेश और निकासी प्रेजिडेंट एस्टेट के 35 नंबर गेट से होगी। यह स्‍थान नॉर्थ ऐवन्‍यू के नजदीक है। लोगों से अनुरोध है कि वह अपने साथ पानी की बोतलें, ब्रीफकेस, हैंडबैग/लेडीज पर्स, कैमरा, रेडियो/ट्रांजिस्टर, छाते, खाने की चाजें ना लाएं। अगर इनमें से कोई भी चीज आपके पास है तो उसे प्रवेश द्वार पर जमा करना होगा।

मुगल गार्डन 18 मार्च को केवल किसानों के लिए विशेष रूप से खुलेगा। इसके बाद 19 मार्च का दिन विकलांग एवं नेत्रहीन व्यक्तियों के लिए रखा गया है। 20 मार्च को यह रक्षा और अर्धसैनिक कर्मियों के लिए खुलेगा।

विकलांग व्यक्तियों का प्रवेश 19 मार्च को 10 बजे से 1 बजे के बीच राष्ट्रपति भवन के मुख्‍य स्‍वागत द्वार से होगा। नेत्रहीन लोगों के लिए हर्बल गार्डन 19 मार्च को दोपहर 2 बजे से साढ़े 4 बजे के बीच खुलेगा। प्रवेश गेट नंबर 12 से होगा जो कि नॉर्थ एवेन्यू की विपरीत दिशा में चर्च गेट पर स्थित है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More