सहरसा-अनशनकारी बाबूलाल शौर्य की हालत चिंताजनक,अनशन तेरहवां दिन भी जारी

71

पुल की मांग व अनशन को जाप का पूर्ण समर्थन : पप्पु
महिलाओं ने नदी के तट पर पुजा अर्चना कर किया महाआरती
सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) से ब्रजेश भारती की रिपोर्ट :-
अनुमंडल के सलखुआ प्रखण्ड के पूर्वी कोसी तटबन्ध के अंदर चानन पंचायत अंतर्गत डेंगराही घाट पर पुल सड़क की मांग को लेकर शुक्रवार को तेरहवे दिन भी अनसन एवं धरना प्रदर्शन जारी। वही तेरहवें दिन सभी अनशनकारीयों की स्थित गंभीर बनी हुई है डाक्टरों के द्वारा लगातार स्लाईन चढ़ाने का काम जारी रहा। मुख्य अनशनकारी बाबूलाल शौर्य की हालत तेरहवां दिन काफी चिंताजनक बन गई हैं। एसजीपीटी लेवल 40 की जगह 478 हो गई है।सिरिम बिल्डवी 1 की जगह 3.5 हो गई है। डाक्टरों का कहना है इस लेवल पर कभी भी कुछ हो सकता है। कौमा से लेकर लीवर खराब होने की अधिक संभावना बन रही है। डाक्टरों का मानना है कि अगर स्थिती ऐसी ही रही तो मौत की संभावना से इंकार नही किया जा सकता है ।
कोशी नदी में महिलाओं ने किया महाआरती :-
अनशन के तेरहवें दिन पुल की मांग के समर्थन में चल रहें अनशन को लेकर सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने कोशी नदी में महाआरती किया।सभी महिलाओं ने नदी के कछार पर धुप, अगरबत्ती,बताशा मिठाई चढ़ा मिट्टी का दीप जला पुजा अर्चना की। इन महिलाओं ने कोशी मईया के गीत गा वातावरण को रमनीय बना दिया।
अनशन स्थल पर पहुंचे सांसद पप्पु यादव :-
वही तेरहवें दिन जनअधिकार पार्टी के संरक्षक सह मधेपुरा सांसद रंजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ शुक्रवार को अनशन स्थल पहुँच कर अनशनकारियों से मिलें। इस अवसर पर उन्होनें ने अनशन व धरणा को संबोधित करते हुये कहां कि फरकिया वासियों की यह मांग जायज हैं।उन्होने कहा कि आजादी के इतने वर्षों बाद भी आज भी सभी नेताओं ने फरकिया वासियों को ठगने का काम किया है वोट की राजनेतिक कर यहां के लोगों को मुर्ख बनाया है।उन्होनें कहा कि हम यकीन दिलाते है कि अगामी लोकसभा सत्र में पुल व सड़क की मांग लोकसभा में उठाने का काम करूंगा। वही उन्होनें ने कहा कि मैं केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मिल उनसे सोनमनखी घाट से डेंगराही होते हुऐ बलवाहाट बरियाही एनएच बनाने की मांग रखूंगा। वही उन्होंने आग्रह कर कहा कि माँ बहने एवं बुजुर्गों को इस अनशन के मुक्ति दिया जाय,अनशन पर बैठना भी है तो युवा वर्ग बैठें।वही जाप के जिला अघ्यक्ष अब्दुस सलाम,शशि यादव,महबूब आलम,समाजसेवी मनोज मुखिया,जाप के जिलाध्यक्ष शेलेन्द्र शेखर,रंजन यादव,अभिमन्यु यादव,संजय यादव,बबलू पासवान,समीर पाठक,नंदन कुमार,असलम,अशोक यादव,अरुण साह, गोवी यादव,इत्यादि मौजूद थे।
तेरहवें दिन भी नेताओं का आना रहा जारी :-
वही अनसन के तेरहवे दिन नेताओं का अनशन के समर्थन में आना जारी रहा ।भारत विकास परिषद के प्रमोद भगत,सेवानिवृत शिक्षक महेन्द्र नारायण प्रसाद,श्रवण कुमार,विन्देश्वरी प्रसाद भगत,सुरेन्द्र नारायण प्रसाद,भाकपा नेता सह स्थानिय जिप सदस्य ओम प्रकाश नारायण आदि शामिल है। वही जिप सदस्य ओम प्रकाश नारायण ने अनशन एवं धरना प्रदर्शन का समर्थन किया,और उन्होंने कहा डेंगराही में पुल निर्माण जरूरी है जो सहरसा और खगड़िया को जोड़ती है,इस पर यह पुल फरकिया का लाइफ लाइन है,जो बलुआहा और डुमरी से ज्यादा महत्वपूर्ण है।सरकार इस इलाके के और योजना को शिथिल कर इस पुल को प्राथमिकता के आधार पर निर्माण करें।
मौके पर रामभरोश महतों, कविता देवी,प्रमिला देवी,रंजेश महतों,विकास कुमार सिंह, कैलाश पासवान,सुभाष चंद्र जोसी,मुरारी कुमार,कपिलदेव सिंह,जोगेंद्र सिंह,कैलाश पासवान,उपेन्द्र महतों,रामविलाश महतों,दीनानाथ पटेल,अशोक दास, विद्यानन्द यादव,कुशेश्वर यादव,युगेश्वर यादव,सुदिन यादव,प्रमोद महतों,पांडव यादव,सुनील यादव,रूदल महतों,रंजेश महतों,अरबिन्द महतों,आनंदी महतों रामनंदन सिंह,सुरेश यादव, इत्यादि हजारों फरकिया वासी धरना स्थल पर मौजूद रहें।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More