वर्ल्ड कप 2015: पहले मैच में भारत ने पाकिस्तान को 76 रन से हराया

नई दिल्ली

वर्ल्ड कप के अपने पहले मैच में टीम इंडिया ने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हराकर अपने अभियान का शानदार आगाज किया है। पहले विराट कोहली की शानदार बैटिंग और फिर बोलरों के शानदार प्रदर्शन की मदद से भारत ने रविवार को खेले गए पूल बी के मैच में पाकिस्तान को 76 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ भारत ने वर्ल्ड कप में पाक के खिलाफ अजेय रहने का रेकॉर्ड बरकरार रखा है। वर्ल्ड कप में पाकिस्तान पर यह भारत की छठी जीत है।

। इससे पहले सबसे बड़ी जीत भारत ने 1999 विश्व कप में हासिल की थी जब भारत ने 47 रनों से मैच जीता था। भारत ने इस मैच में 301 रनों का लक्ष्य दिया जिसके जवाब में पाकिस्तान की टीम 47 ओवर में 224 के स्कोर पर ही सिमट गई। शतक जड़ने वाले भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली (107) को मैन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया

खराब शुरुआत रही भारत की, रोहित हुए फ्लॉपः

इससे पहले, बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की सलामी जोड़ी से एक शानदार शुरुआत की उम्मीद थी लेकिन रोहित शर्मा आठवें ओवर की तीसरी गेंद पर सोहैल खान की गेंद पर मिस्बाह के हाथों कैच हो गए। रोहित ने महज 15 रन बनाए। ये विकेट 34 के कुल स्कोर पर गिरा।

– धवन लौटे लय में, शतक से चूकेः

रोहित के आउट होने के बाद शिखर धवन ने मोर्चा संभाला और विराट के साथ मिलकर पारी को तेजी से आगे बढ़ाया। भारत को 163 रन पर शिखर धवन के रूप में दूसरा झटका लगा। शिखर धवन 76 गेंदों पर 7 चौकों और 1 छक्के की मदद से 73 रन बनाकर रन आउट हुए। धवन शानदार अंदाज में अपने शतक की ओर बढ़ रहे थे लेकिन विराट के साथ तालमेल में कमी के कारण वो रन आउट हो गए।

– विराट और रैना ने मचाया धमालः

धवन के बाद सुरेश रैना पिच पर आए और उन्होंने जमकर विराट कोहली का साथ दिया। दोनों खिलाड़ियों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए स्कोर को रफ्तार दी, जिस बीच विराट कोहली ने अपने वनडे करियर का 22वां शतक जड़ दिया। कोहली ने 119 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया। हालांकि इसके बाद वो 7 रन ही और जुटा पाए और 126 गेंदों पर 107 रन बनाकर आउट हो गए। वहीं, उनके आउट होने के बाद भी कुछ देर तक सुरेश रैना ने धमाल जारी रखा और रैना ने 40 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा करते ही और धुआंधार बल्लेबाजी की। रैना ने आउट होने से पहले 56 गेंदों पर 74 रनों की पारी खेली जिसमें 3 छक्के और 5 चौके शामिल थे।

– अचानक आया विकेटों का पतझड़ः

विराट और रैना के आउट होने के बाद जब टीम इंडिया से 350 के आंकड़े के करीब जाने की उम्मीद लगाई जा रही थी तभी अचानक विकेटों का ऐसा पतझड़ आया जिसने उम्मीदें बिखेर कर रख दीं। आलम ये था कि 273 के स्कोर पर तीसरे विकेट के रूप में कोहली आउट हुए थे जबकि 296 रन तक भारत ने अपने अगले चार और विकेट गंवा दिए। 48वें ओवर की आखिरी गेंद और सोहैल खान के 49वें ओवर की पहली दोनों गेंदों पर लगातार कुल तीन विकेट गिरे जिसमें कप्तान धौनी (18), रहाणे (0) और जडेजा (3) के विकेट शामिल रहे। नतीजतन टीम इंडिया 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 300 रन ही बना सकी।

– सोहेल का जलवाः

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज सोहेल खान ने इस मैच में अपना जलवा बिखेरा। सोहेल ने 10 ओवर में 55 रन लुटाते हुए भारत के पांच अहम बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया। उनके अलावा सिर्फ वहाब रियाज को ही एक विकेट हासिल हुआ। सबसे महंगे गेंदबाज यासिर शाह साबित हुए जिन्होंने 8 ओवर में बिना किसी सफलता के 60 रन लुटा डाले। शाहिद अफरीदी ने 8 ओवर में बिना किसी सफलता के 50 रन लुटाए।

– शुरुआत से ही लड़खड़ाई पाकिस्तान की पारीः

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम को पहला झटका मोहम्मद शमी ने यूनिस खान को आउट करके दिया। यूनिस खान ने 6 रन बनाए। इसके बाद हैरिस सोहेल को अश्विन ने रैना के हाथों कैच कराया जबकि टीम का स्कोर 100 पार होते ही अहमद शहजाद भी आउट हो गए। शहजाद अपने अर्धशतक से महज तीन रन से चूक गए। भारतीय गेंदबाजों का जलवा यहीं नहीं थमा। उमेश यादव ने शोएब मकसूद (0) को स्लिप पर रैना के हाथों कैच कराते हुए पाकिस्तान को चौथा झटका भी दे दिया।

– नहीं रुका विकेटों का पतझड़ः

ये विकेटों का पतझड़ फिर भी नहीं रुका और जडेजा की गेंद पर धौनी ने विकेट के पीछे उमर अकमल (0) को भी कैच करा और पाकिस्तान को पांचवां झटका भी लग गया। इसके बाद कुछ देर तक कप्तान मिस्बाह और अनुभवी ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने पिच पर टिकने की कोशिश जरूर की लेकिन 35वें ओवर में मोहम्मद शमी ने एक फुल टॉस गेंद पर अफरीदी को शॉट खेलने पर मजबूर किया और ऑफ साइड पर कोहली ने एक शानदार कैच लेकर पाकिस्तान को छठा झटका दे दिया। वहीं, इसी ओवर में शमी ने वहाब रियाज (4) को भी विकेट के पीछे धौनी के हाथों कैच कराते हुए पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। ये शमी की तीसरी और भारत की सातवीं सफलता थी। इसके बाद मोहित ने यासिर के रूप में पाकिस्तान का आठवां विकेट चटकाया। 46वें ओवर में शमी की ऊंची गेंद को पाकिस्तान टीम के कप्तान मिस्बाह समझ नहीं पाए और कैच देकर अपना विकेट गवां बैठे। मिस्बाह का विकेट गिरते ही 47वें ओवर में ही पाकिस्तान टीम पूरी तरह से बिखर गई। मोहित शर्मा ने सोहेल का विकेट चटका कर पाकिस्तान की पारी को 224 रन पर समेट दिया और भारत ने 76 रनों से जीत दर्ज की।

– शमी ने दिखाया दमः

भारतीय पेसर मोहम्मद शमी टीम इंडिया की तरफ से सबसे सफल गेंदबाज साबित हुए। अपने पहले विश्व कप का पहला और अहम मुकाबला खेल रहे शमी ने 10 ओवर में 50 रन लुटाते हुए 4 अहम विकेट लिए जिसमें यूनिस खान, मिस्बाह-उल-हक, शाहिद अफरीदी और वहाब रियाज के विकेट शामिल रहे। उनके अलावा मोहित शर्मा और उमेश यादव ने दो-दो जबकि रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा ने 1-1 विकेट अपने नाम किया।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More