रामगढ-बालिकाओं को उनके अधिकारों से अवगत करा रहा युवा नामक संस्था

 

रामगढ़ – पिछले 6 दिनों से चली आ रही जन-जागरुकता (मीडिया) अभियान रथ आज 7 वें और आखिरी दिन 22 फरवरी को रामगढ़ के मुर्राम कला पंचायत पहुंचा, जहां इस गांव की मुखिया अर्चना महतो ने अपनी सक्रिय भूमिका निभाई। कार्यक्रम की शुरुआत मुखिया के हाथो फीता काटकर हुआ। मुखिया की उपस्थिति में काफी संख्या में ग्रामवासियों ने अभियान रथ का गर्मजोशी से अभियान दल के सदस्यों का स्वागत किया। फिर लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से अभियान दल के सदस्यों और ग्रामीणों के साथ मुखिया ने स्वयं ग्राम फेरी में हिस्सा लिया। मुखिया ने लोगों से बेटियों को बचाने, उनकी अधिकारों की रक्षा और समाज में मान-सम्मान दिलाने के लिये अपील की एवं युवा संस्था के द्वारा चलाये जा रहे अभियान की काफी सराहना की। संस्था के सचिव राकेश नारायण को अभियान दल के सदस्यों के माध्यम से इस तरह के कार्यक्रमों को आगे आयोजित करते रहने का सुझाव भी दी।
ग्राम फेरी कार्यक्रम में अभियान दल के सदस्य ग्रामीणों के साथ घर-घर जाकर उन्हें जागरुक करते हैं। जिनके घर में बेटियां हैं उनके घरों से अनाज मांगते हैं और उनके घर दीपक भी जलाते हैं। दीपक रुपी बेटी की सुरक्षा की कामना करते हैं। बाद में उस अनाज से खिचड़ी बनाया जाता है और लोगों के बीच वितरित किया जाता है।
यूरोपियन यूनियन और प्लान इंडिया द्वारा संचालित गर्व परियोजना के तहत झारखंड आधारित संस्था युवा (यूथ्स यूनियन फॉर वोलेन्टरी एक्शन) द्वारा संचालित जन-जागरुकता (मीडिया) अभियान रथ बालिकाओं को सशक्त बनाने एवं उनके समर्थन सहित उनके विकास के अधिकार दिलाने का काम कर रही है। इस अभियान की सहभागी एजेंसी “स्वर” विभिन्न पंचायतों में लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से दिन भर में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों को आयोजन करने का काम करती है। गांव के लोगों ने ऐसी ही योजना बनाकर लोगों को जागरुक करते रहने की बात भी कही।
विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से जैसे चित्र प्रदर्शनी, सहिया चुल्हा, दीवार पेंटिंग प्रतियोगिता, नुक्कड़ नाटक का मंचन कर लोगों को भरपूर मनोरंजन के साथ-साथ जागरुक करने का काम किया गया। लोगों को जागरूक करने के लिए दल के सद्स्यों ने एक जागरूकता रैली भी निकाली गई। इस दौरान झारखंड रामगढ़ जिला के सात पंचायतों मांडूडीह, मांडूचट्टी, गरगली, बसंतपुर, कुंदरुकलां, कैथा और मुर्रामकला में महिलाओं और बच्चों के लिए कई प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया गया, जिसमें शामिल प्रतिभागियों को कार्यक्रम के अंत में उनके उत्कृष्ठ योगदान के लिये प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया गया। अभियान दल की तरफ से कुमार संभव, ओम प्रकाश, कुमार कुणाल, रामदीन कुमार आदि शामिल थे। इसी तरह रामगढ़ जिला के 7 पंचातों में चलाये जा रहे इस अभियान का समापन मुर्रामकला पंचायत में हुआ। 24 फरवरी से 26 फरवरी तक इस कार्यक्रम को रांची में और 27 तारीख से 9 मार्च तक जमशेदपुर एवं धनबाद में आयोजित किया जायेगा।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More