मोतिहारी-मोतिहारी में अपराधियों ने की अंधाधुंध फायरिंग, किराना व्यवसायी को मौत के घाट उतारा

 

मोतिहारी।
पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी में अपराध चरम पर है। व्यवसायियों से रंगदारी मांगना और सरेआम उनकी हत्या कर देना या उनके प्रतिष्ठान पर फायरिंग कर देना अपराधियों के लिए बांये हाथ का खेल बन गया है। इसी कड़ी में सोमवार की रात अपराधियों ने एक किराना व्यवसायी को मौत के घाट उतार कर पुलिस-प्रशासन को कड़ी चुनौती दे डाली। रात्रि करीब दस बजे शहर के छतौनी चौक के समीप ढाका रोड में एके 47 जैसे अत्याधुनिक हथियार से लैस अज्ञात अपराधियों ने एक किराना दुकानदार इन्द्रजीत जायसवाल को गोलियों से भुन दिया। अपराधियों द्वारा की गयी ताबड़तोड़ फायरिंग में राजू किराना स्टोर्स के मालिक इन्द्रजीत की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। अबतक मिल रही जानकारी के अनुसार अपराधियों ने बारह राउंड फायरिंग की है। घटना स्थल पर अपराधियों ने पर्चा भी फेंका है। पर्चे पर दीपक पासवान जिंदाबाद लिखते हुए इस हत्याकांड की जिम्मेवारी लेने की भी बात लिखी हुई है। घटना स्थल पर पहुंचे मृतक के परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची छतौनी पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस ने घटना स्थल से 315 बोर का आधा दर्जन खोखा बरामद किया है।अन्य थानों के सहयोग से छतौनी पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। किराना व्यवसायी इन्द्रजीत जायसवाल की हत्या के बाद शहर के व्यवसायी सहमे हुए हैं।
[18/07, 07:14] ‪+91 94504 68204‬: दरोगा की गुंडई ,अखबार के आपरेटर को पिटा
तमकुहीराज (कुशीनगर)
आज देर शाम अपने भाभी का खून जाच कराने पहुचे रास्ट्रीय सहारा अखबार के आपरेटर को अधिक पैसा लेने के बिवाद में पहुचे दरोगा ने पैथालोजी संचालक के इशारे पर आपरेटर को पहले पिटा बाद में जबरिया समझौता करा दिया इस बात की जानकारी के बाद पत्रकारों में रोष व्याप्त है
जानकारी के अनुसार रास्ट्रीय सहारा का आपरेटर अपने भाभी का खून जाच कराने कस्बे के एक पैथालोजी सेंटर पर पंहुचा जहा मनमानी पूर्ण संचालक ने बारह सो रुपया की माग किया गया जब आपरेटर ने प्रतिरोध किया तो पहले उसकी पिटाई संचालक ने किया बाद में चौकी इंचार्ज को बुला कर उसे बंद करा दिया जहा चौकी इन्चार्य ने पहले भद्दी भद्दी गालिया दिया व उसकी पिटाई कर दिया व गंभीर आरोप में जेल भेजने की धमकी दिया
बाद में मामला गंभीर जान आनन फानन में आपरेटर से सादे कागज पर हस्ताक्षर करा कर छोड़ दिया
घटना की जानकारी मिलने पर पत्रकारों ने रोष व्यक्त करते हुए दरोगा पर कारवाई की माग किया है

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More