मधुबनी-शहीद भगत सिह के शहादत दिवस पर हुए कई कार्यक्रम

48

मघुबनी।

शहीद भगतसिंह के86वाँ शहादत दिवस 23 मार्च 1931 पर प्रभात मार्च (मोटर साइकिल रैली) व संकल्प – श्रध्दांजलि सभा आयोजित किया गया । विदित हो कि भाकपा-माले द्वारा 23 मार्च 2017 शहीदेआज़म भगतसिंह के86वाँ शहादत पर शहीद चौक जयनगर से दर्जनों मोटरसाइकिल पर शहीदेआज़म भगतसिंह का तस्वीर व लाल झंडा के साथ प्रभात मार्च /मोटर साइकिल रैली निकाला गया जो जयनगर राजपूताना, ब्राह्मण टोला, मैन रोड, महावीर चौक, भेलवा चौक, ब्लॉक, पटना गद्दी चौक, स्टेशन रोड होते हुए, रेल्वे स्टेशन परीसर में श्रद्धांजलि सभा में तब्दील हो गया! रैली को भाकपा-माले प्रखण्ड सचिव भूषण सिंह व भाकपा के अंचल मंत्री नरेश ठाकुर नेतृत्व कीए! स्टेशन परीसर में श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए माले के प्रखण्ड सचिव भूषण सिंह ने कहा कि आज देश आजादी के बाद भी शहीदेआज़म भगतसिंह के जो सपना था साम्राज्यवाद, पूंजीवाद, साम्प्रदायिकवाद, से मुक्त भारत का निर्माण जहां एक मनुष्य को दुसरे मनुष्य के द्वारा शोषण- दमन नहीं हो हर मजदूरों, किसानों, का उत्थान छात्रों नौजवानों को शिक्षा रोजगार विदेशी गुलामी से मुक्ति हौ लेकिन सभी शासक वर्गो ने शहीदेआज़म भगतसिंह, राज गुरु, सुखदेव जो वाल उम्र ही आजादी के लिए फांसी पर चढ़ गए और शहीदेआज़म के दिवाने छात्रों – नौजवानों उक्त व्यवस्था के खिलाफ और शोषण मुक्त समाज की स्थापना व बाबा शाहेव अम्बेडकर के बानाए गए संविधान लागू करने की लड़ाई लड़ने व भगतसिंह के क्रांतिकारी विरासत को बचाने व राहों पर चलने वाले लोगों को मोदी सरकार देश द्रोही कह कर जेल भेज दिया जाता है, सभा को भाकपा-माले के मुसतफा, चलित्तर पासवान, गुडडू गुप्ता, प्रमोद ठाकुर, रौशन चौधरी, गणेश पासवान, पवन सिंह,मो० भोला, जितु कामत, तेजीलाल कामत, भुवनेश्वर राय, रामचंद्र यादव,राजेश भगत, भाकपा के अंचल मंत्री नरेश ठाकुर, शहर मंत्री श्रवण साह ने संबोधित किया और अंत में शहीदेआज़म भगतसिंह के तस्वीर पर पुष्प माला अर्पित कर सच्ची श्रध्दांजलि अर्पित किए और उनके राहों पर चलने का संकल्प लिए ।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More