मधुबनी-कांग्रेस पार्टी का समाहरणालय के सामने धरना एवं उपवास । केंद्र कि भाजपा सरकार पर निकला भड़ास

मामला जम्मु कश्मीर सरकार द्रारा आतंकी सारंगना मसरत आलम  के रिहाई का।

अजयधारी सिंह ,मधुबनी जिला कांग्रेस  के नेताओं ने आज मधुबनी समाहरणालय के सामने धरना दिया और एवं एक  दिवशीय पवास किया  ।  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कांग्रेस के बरिष्ठ नेता कृपानाथ पाठक ने कहा कि केंद्र में जब से बीजेपी  सरकार बानी है तब से आतंकवादियों का हौसला चरम पर है।  कांग्रेस नेता ने केंद्र के   पूर्व प्रधानमंत्री  बीपी सिंह की सरकार के कार्यकाल की चर्चा करते हुए कहा की उस समय में मुफ्तीमोहमद सईद देश के गृह मंत्री थे और आंतकवादियो द्रारा उनकी पुत्री रुबिया सईद का अपहरण कर लिया गया। उस समय में रुबिया सईद को आंतकवादियो से मुक्त करने केलिए पाँच खुंखार आंतकवादियो को केंद्र की सरकार ने रिहा कर दिया। वर्ष १९९९ में पुनः बीजेपी की सरकार बानी तब आंतकवादियो के द्रारा एअर इंडिया का विमान को अगवा कर लिया। उस समय में भी देश का खुंखार दुश्मन आंतकवादी अजहर महमूद उन पॉँच आंतकवादियो में शामिल था जिसे सरकार ने रिहा कर दिया और उसे पहुचाने केलिए देश के तत्कालीन रक्षा मंत्री जसवंत सिंह कंधार तक गए थे। वर्ष २००२ में अटल बिहारी बाजपेयी की सरकार सत्ताशीन हुई तब उस समय आंतकवादियो ने (देश का दिल ) > संसद भवन पर ही हमला करदिया इस हमले में अफजल गुरु पकड़ा गया। २०१५ में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में एनडीए की सरकार बनीं   तबसे करीव १० माह के अंदर देश की सीमाओ पर हमले बढ़ गए और सैनिक सहित बड़ी संख्या में आम नागरिकों की हत्या हुई पर साकार माओं है। दिलच्स्प बातें यह है कि बीजेपी और पीडीपी गठबंधन की सरकार ने जम्मू काश्मीर में   सत्ता संभालने  तुरंत बाद मुख्यमंत्री मुफ़्ती मोहम्मद सईद ने पाकिस्तान का गुणगान करते हुए आतंकवादियों कास हौसला अफजाई किया।  कांग्रेसी नेताओं  ने  केंद्र व राज्य सकरा से आंतकी सरगना मसरत आलम को अबिलम्ब गिरफ्तार करने  की मांग  किया है।  वहीं हल ही में पास हुए भूमि अधिग्रण  को किसान बिरोधी बताते हुए इसे अबिलम्ब वापस लेने की मांग किया है।  वहीं देश सूत्री मांगो युक्त  ज्ञापन देश के राष्ट्रपति   नाम समाहर्ता को सौपा।  कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष शीतलाम्बर झा  किया जब की पूर्व  परिषद अध्यक्ष सतीश चन्द्र मिश्र ,गोविन्द पाठक ,विष्णु कांत मिश्र,  माया नन्द झा ,नेमतुल्लाह अंसारी, महेंद्र नारायण झा ,जिला बिधिक प्रकोष्ठ के अधिवक्ता ऋषि देव सिंह सहित सैकड़ो  कांग्रेसी नेताओं ने सम्बोधित किया।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More