जमशेदपुर-स्लैग से झुलसी बच्ची की मौत, भाजपा ज़िलाध्यक्ष के पहल पर मिला मुआवजा

36
● शाह स्पंज आयरन कंपनी की लापरवाही
● बच्ची की मौत, भाजपा ज़िलाध्यक्ष दिनेश कुमार के हस्तक्षेप पर मिला मुआवजा
जमशेदपुर।
पोटका विधानसभा क्षेत्रांतर्गत हाता स्थित शाह स्पंज आयरन कंपनी द्वारा स्लैग डंपिंग के दरम्यान बरती गई लापरवाही से पोटका के दबंकी गाँव निवासी सुभाष देव की ग्यारह वर्षीय पुत्री मनसा देव की इलाज़ के क्रम में मृत्यु जो गयी। बच्ची का उपचार टाटा मुख्य अस्पताल में चल रहा था। घटना की सूचना मिलते हीं भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार टीएमएच पहुँचे और परिजनों से मिलकर सहयोग का आश्वासन दिया और कंपनी के संबंधित पदाधिकारियों को मौके पर वार्ता हेतु बुलाया। पांच घँटे टीएमएच में डटे रहने के पश्चात मौके पर शाह स्पंज आयरन के पदाधिकारी पहुँचे। इस दौरान भाजपा नेताओं और परिजनों ने उनपर उचित मुआवजा राशि उपलब्ध कराने दबाव दिया। भाजपा ज़िलाध्यक्ष दिनेश कुमार के हस्तक्षेप पर प्रबंधन की ओर से तत्काल पचास हज़ार रुपये नकद एवं ढाई लाख रूपये की चेक मुआवजा के रूप में सौंपी गयी। इसके साथ हीं परिवार के किसी सदस्य को कंपनी में ठेकेदारी में नौकरी उपलब्ध कराने पर सहमति बनीं। वहीं इसी घटनाक्रम में झुलसा दुसरा बच्चा नौ वर्षीय रामो महाली को बेहतर उपचार के लिए एमजीएम से टीएमएच शिफ़्ट करने की भी बात हुई जिसके ईलाज़ का ख़र्च कंपनी प्रबंधन व्यय करेगी। विदित हो की बीते दस मार्च को शाह स्पंज आयरन कंपनी की ओर से की जा रही स्लैग डंपिंग में लापरवाही से दो बच्चे गर्म स्लैग के नीचे दबकर झुलस गए थें। मामले की जानकारी मिलने पर स्थानीय भाजपा नेता हलधर दास 16 मार्च को पीड़ित परिवार से मिलें और दोनों ही बच्चों को उपचार के लिए एमजीएम अस्पताल में दाख़िल करवाया। बच्ची की स्थिति नाज़ुक होने की वजह से कल रात उसे टीएमएच स्थानांतरित किया गया था जहाँ आज उनकी मृत्यु हो गयी। टीएमएच पहुँचे वाले भाजपा नेताओं में जिला भाजपा के उपाध्यक्ष सत्यप्रकाश सिंह,पोटका प्रखंड 20 सूत्री उपाध्यक्ष हलधर दास,गिरीश सिंह,संजू बारी(मिडिया प्रभारी,आसनबनी मंडल),पंचानंद दास(उपाध्यक्ष आसनबनी),श्रीनिवास सिंह समेत बच्ची के परिजन मौजूद थें। वहीं शाह स्पंज आयरन कंपनी के महाप्रबंधक ए. नायक,हेमंत महतो ( एचआर प्रबंधक ),अमृत तिवारी ने भाजपा नेताओं संग वार्ता किया।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More