जमशेदपुर-सरयु राय ने गोपाल मैदान मे झंडा लहराया

57

जमशेदपुर।

स्वतंत्रता दिवस के 69 वीं वर्षगांठ पर जमशेदपुर के गोपाल मैदान बिष्टुपुर में जिलास्तरीय मुख्य झंडोतोलन समाोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री सरयु राय, माननीय मंत्री, खाद्य एवं आपूर्ति तथा उपभोक्ता मामले व संसदीय कार्य विभाग ने सुबह 9: 05 मिनट पर झंडोतोलन किया। झंडोतोलन मंच पर माननीय मंत्री के अलावा डाॅ0 अमिताभ कौशल, उपायुक्त, श्री अनुप टी0 मैथयु, वरीय पुलिस अधीक्षक, श्री चंदन झा, सीटी एस0 पी0, श्री शैलेन्द्र सिन्हा, ग्रामिण एस0 पी0 विराज मान थे। DSC_0383
इस अवसर पर माननीय मंत्री ने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले 68 वर्षों में देश और राज्य ने विकास के हर क्षेत्र में काफी प्रगति की है और इस प्रगति को अभी और आगे ले जाने की जरुरत है। पिछले वर्षों में काफी विकास हुआ है और इसकी सराहना होनी चाहिए, पर साथ ही नयी पीढ़ी की क्षमता का विकास करने के लिए और प्रयास करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि समतावादी समाज का निर्माण करना अभी भी एक चुनौती है। आज भी शहरी एवं ग्रामिण भारत की एक बड़ी आबादी विकास के लाभों से वंचित है। देश व राज्य आगे बढ़ रहा है, पर कड़वा सच है कि राज्य की 39 प्रतिशत जनसंख्या निरक्षर है व कुल साक्षरों का 15 प्रतिशत सिर्फ प्रारंभिक शिक्षा ही प्राप्त कर पाया है। उन्होंने शासन के विकेन्द्रीकरण पर जोऱ देते कहा कि शासन के प्रत्येक स्तर को उनकी हिस्सेदारी देने की जरुरत है। स्वशासन की संस्थाओं को शक्ति मिलनी चाहिए और साथ ही उन पर जिम्मेदारी भी डालनी चाहिए। उन्होंने पंचायती राज संस्थाओं के सशक्ति करण पर जोर देते हुए राज्य में वित आयोग की भांती पंचायत आयोग की स्थापना का सुझाव दिया।
औद्योगिक नगरी जमशेदपुर को उन्होंने स्टील सिटी से स्किल ;ैापससद्ध सिटी में बदलने की बात कही । उन्होंने कहा कि औद्योगिक संस्कृति में एक स्वाभाविक बदलाव की जरुरत है। जमशेदपुर अपने औद्योगिक ताकत के बल पर सारे देश की जरुरतों को पूरा करने की क्षमता रखता है। जमशेदपुर में विनिर्माण को और बढ़ावा देने की जरुरत है।
उन्होंने स्वच्छता को शहर व गांव दानों की जरुरत बताते हुए इसे एक मिशन के रुप में अपनाने की बात कही स्वच्छता सिर्फ सड़कों एवं नालियों की साफ सफाई तक सीमित नही रह कर संस्कार के स्तर पर भी अपनाने की जरुरत है। मंत्री महोदय ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सर्वोच मेघा को अपने कर्तव्यों का पालन आम जनता के हितों की पूर्ति के लिए अपनी बुद्धिमता का इस्तेमाल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता को नयी पीढ़ी ने विस्तार दिया है। देश में बाहरी संकट से निपटने के लिए सीमा के जवान और आंतरिक संकट से निपटने के लिए पुलिस बल सक्षम एवं सदैव तत्पर है और उन्होंने उनके मनोबल को बनाए रखने पर बल दिया।
सत्ता पक्ष और विपक्ष को एक ही सिक्के के दो पहलू बताते हुए उन्होंने निति निर्माण में विपक्षी दलों से भी सलाह मशविरा का समर्थन किया।
अपने संबोधन के पश्चात माननीय मंत्री ने शहीद किशन कुमार दुबे और शहीद मनोरंजन कुमार के परीजनों को सम्मानित किया साथ ही स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों को शॅाल भेट कर सम्मानित किया। अकेडमिक क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्याथियों को भी सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर जिला व पुलिस प्रशासन के सभी अधिकारीगण, गणमान्य व्यक्ति, विभिन्न स्कूलों से आए छात्र-छात्राएॅ और सामान्य जनसमूह से गोपाल मैदान भरा पड़ा था।
अंत में श्री बिनोद कुमार, उप विकास आयुक्त द्वारा वहाॅ उपस्थित सभी लोगों को एवं पत्रकारों को धन्वाद दिया गया।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More