जमशेदपुर-वैष्णो देवी जागरण में गुंडागर्दी का मामला सिटी एसपी के समक्ष पहुंचा

33

 

झामुमो के जिला अध्यक्ष रामदास सोरेन ने कहा है कि कार्रवाई नहीं हुई, तो व्यापक आंदोलन किया जायेगा

संवाददाता

जमशेदपुरः रानीकुदर में जागरण समिति द्वारा विगत 23 मई को माता वैष्णो देवी जागरण में रात्रि  में स्थानीय कुछ गुंडों द्वारा अश्लील हरकत करने तथा मारपीट का मामला सिटी एसपी चंदन कुमार झा के समक्ष पहुंच गया है. मंगलवार को झामुमो जिला अध्यक्ष रामदास सोरेन के नेतृत्व में जागरण समिति के प्रतिनिधि सिटी एसपी चंदन कुमार झा से मिले और मारपीट व खुलेआम गुंडागर्दी करनेवालों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है. साथ ही चेतावनी दी है कि अगर कार्रवाई नहीं हुई, तो झामुमो व्यापक स्तर पर आंदोलन के लिए वाध्य होगी.

प्रतिनिधियों ने बताया कि विगत 23.5.2015 को रानी कुदर में माता वैष्णो देवी जागरण का आयोजन जागरण समिति द्वारा किया गया था. इस जागरण के दौरान रात्रि 2.10 बजे बस्ती के ही स्थानीय अपराधी किस्म के कुछ युवक डांस करने लगे, जिनमें बजरंग गोस्वामी, बबलू उर्फ मंगड़ू व मोहन राव व अन्य तीन-चार सामिल थे. सभी शराब के नशे में चूर थे. ये लोग डांस के दौरान जागरण में शामिल महिलाओं के समक्ष अश्लील हरत करने लगे. इसे देख जागरण समिति के सदस्यों ने बाहर चले जाने को कहा, लेकिन वे मान नहीं रहे थे. इसके बाद समिति के सदस्यों  ने जबरन उन्हें बाहर कर दिया. बाहर में मारपीट भी हुई.

अगले दिन यानी 24 मई 2015 को झारखंड मुक्ति मोरचा के कार्यालय मं बैठे जागरण समिति के के सदस्य संजय रजक, विकास मिश्रा, महिला सदस्य कमला शर्मा, मोहन देवी बैठी थी. इसी क्रम में वे लोग आये और मारपीट करने लगे. साथ ही अभद्र व्यवहार करने लगे. इसका विरोध किया, तो वे लोग चले गये. कुछ देर बाद पुनः तीन-तीन गाड़ियों में सवार हो कर आये और जागरण समिति के सदस्यों पर हमला कर दिया. एक व्यक्ति को बट से मार कर घायल कर दिया. महिलाओं को तो घर में घुस कर मारा. इस घटना से पूरी बस्ती में दहशत का माहौल बन गया है. स्थिति यह है कि यहां कभी भी अप्रिय घटना हो सकती है. रामदास सोरेन ने कहा कि वे खुलेआम गुंडागर्दी को कदापि बरदास्त नहीं करेंगे. प्रशासन तत्काल हस्तक्षेप करे. वरना स्थिति विस्फोटक हो सकती है.

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More