जमशेदपुर-नेशनल रूरल-अरबन ; मिशन की पहली जिला स्तरीय बैठक हुई

 

 

जमशेदपुर।

पूर्वी सिंहभूम समाहरणालय कक्ष में राष्ट्रीय रूरबन मिशन की पहली जिला स्तरीय बैठक हुई। रूरबन मिशन ;त्नतठंदद्ध केन्द्र-राज्य सहभागिता आधारित एक ऐसा मिशन है जिसका लक्ष्य है किसी ग्रामीण इलाके (क्लस्टर) में शहरी सुविधाएं देकर उसे रूरबन (रूरल ़ अरबन) यानि ग्रामीण व शहरी मिश्रित आदर्श स्वरूप प्रदान करना। पूरे देश में 300 जबकि झारखण्ड राज्य मंे कुल 3 ऐसे क्लस्टर्स बनाए जाने है जिसमे से एक क्लस्टर यहाँ के जनजातीय क्षेत्र में बनाया जाना है। इसी जनजातीय कोटि के रूरबन क्लस्टर के रूप में घाटशिला प्रखण्ड अन्तर्गत धरमबहाल-काशिदा क्षेत्र को चुना गया है। यानि जनजातीय कोटि वाला यह राज्य का इकलोता क्लस्टर होगा। इस क्लस्टर में दो पंचायतों क्रमशः धरमबहाल व काशिदा के दलबेड़ा, सुसनीजोबनी, डुमरबहाल, तमाकपाल, कालापाथर, उपर पावड़ा, महालीडीह, गोहांनडीह आदि ग्रामों के लगभग 10 हजार के आबादी वाले क्षेत्र को सम्मिलित किया जाना है। इस क्लस्टर क्षेत्र में बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति, सामाजिक उत्थान हेतु आवश्यक सुविधाओं, आर्थिक प्रगति तथा शैक्षणिक-स्वास्थ्य स्तर को ऊंचा उठाना जैसे प्रमुख कारक इस मिशन की अवधारणा है। पूर्वी सिंहभूम जिले में विकसित किए जा रहे इस रूरबन क्लस्टर के समग्र विकास में कुल लगभग 52 करोड़ रूपये का खर्च अनुमानित है। उक्त निधि का प्रबंध पूर्व से चलाई जा रही विकास योजनाओं के साथ समायोजन/अभिसरण अनाबद्ध निधियों, सांसद-विधायक निधियों, काॅरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व आदि विभिन्न स्रोतों से किया जाएगा। इस मिशन के तहत् आगामी तीन वर्षों में क्लस्टर के अन्तर्गत आनेवाली आबादी में ग्रामीण सड़क निर्माण, विद्युतीकरण, हर रसोई तक गैस चूल्हा वितरण करना, गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य एवं शिक्षा के साधन विकसित करना, खुले में शौच मुक्त करना, स्वच्छता का स्तर बढ़ाना, कौशल विकास पर जोर देना, हथकरघा उद्योगों को बढ़ावा देना, पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करना, कृषि एवं सिंचाई के क्षेत्र में गुणात्मक एवं मात्रात्मक सुधार करना आदि प्राथमिकताएं शामिल है।

 

उपायुक्त की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में उप विकास आयुक्त श्री विनोद कुमार, अपर उपायुक्त श्री सुनील कुमार, जिला आपूर्ति अधिकारी श्री दिलीप तिवारी, डी0आर0डी0ए0 निदेशक श्रीमती उमा महतो, एन0आर0ई0पी0 निदेशक श्रीमती रंजना मिश्रा, घाटशिला अनुमण्डल पदाधिकारी श्री संतोष गर्ग, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी संजय कुमार, पी0एम0आर0डी0एफ0 सुश्री नीतिशा बेसरा, क्रियान्वयन स्तर से जुड़े सभी तकनीकी पदाधिकारी, सरकारी-निजी कम्पनियों के प्रतिनिधियों के अलावा धरमबहाल व काशिदा पंचायतों के मुखियाद्वय सम्मिलित हुए।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More