जमशेदपुर-कर्मचारियों के जीवन से खिलवाड़ बर्दाश्त नहींः दुबे

33

 

जमशेदपुर। सेंट्रल ट्रांसपोर्ट पार्किंग परिसर में चालकों एवं खलासियों की एक महत्वपूर्ण बैठक में चालकों ने सेंट्रल ट्रांसपोर्ट यूनियन के अध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे को कई गंभीर समस्याओं से अगवत कराया। जिसमें मुख्य रूप से चालकों द्वारा जबरन दो शिफ्रट डड्ढूटी कराया जा रहा है और दो शिफ्रट डड्ढूटी का उचित भुगतान भी चालकों को नहीं दिया जाता है। तीन वर्षाें से ज्यादा हो जाने के बाद भी अभी तक सभी चालकों एवं खलासियों का नाम जमशेदपुर के पीएपफ कार्यालय से नहीं जोड़ा गया है पूर्व में सभी को लखनउफ से ही पीएपफ का लाभ मिलता था। उससे कई समस्या सभी चालकों को होती थी। किसी चालकों को छुट्टी नहीं दिया जाता है और अगर किसी चालक के बदले कोई दूसरा चालक डड्ढूटी करता है तो उसे किसी प्रकार का मेहताना नहीं दिया जाता है। डड्ढूटी नहीं करने की बात पर काम से बैठा देने की ध्मकी दिया जाता है। खलासियों को भी पीएपफ का लाभ मिलना चाहिए। सभी बस 4 वर्ष पुराना हो गया है सभी गाड़ी की माईलेज कम हो गयी है माइलेज के नाम पर ड्राईवरों को प्रताडि़त किया जाता है। सभी को यूनीपफार्म वर्ष 2015 से 2016 का अविलंब दिया जाय। सभी चाकलों एवं खलासी की बातों को सुनने के बाद दुबे ने कहा कि खलासी से गाड़ी चलाना मतलब कर्मचारियों के जीवन से खिलवाड़ करना है और ये सुरक्षा का मामला बनता है जो कि कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। किसी भी चालक से जबरन दो शिफ्रट नहीं कराया जा सकता और अगर दो शिफ्रट डड्ढूटी के एवज में सेंट्रल प्रबंध्न को उचित भुगतान करना पड़ेगा। ड्राईवरों की सभी मांगों को सेंट्रल ट्रांसपोर्ट के प्रबंध्क एबरार अहमद, आरिपफ खान एवं जिलाउल हक के समक्ष रखा गया साथ ही 1 अप्रैल से पूर्व सभी का उचित हल करने की मांग की गयी अगर मांगे नहीं मानी जाती है तो चरणब( आंदोलन की बात श्री दुबे ने कही। प्रबंध्न ने कहा कि सभी मांग जायज है समय से पूर्व ही उचित पफैसला ड्राईवरों के हित में लिया जायेगा। बैठक में बबलू झा, अजय सिन्हा, रवि राय, शहजादा सहित कापफी संख्या में कर्मचारी उपस्थित थे।

Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More