जमशेदपुर- आर आई टी मेंटाटा टीमकेन के अधिकारी के घर भीषण डकैती

36
आरआइटी थाना से महज दो सौ मीटर स्थित एनआइटी को-ऑपरेटिव सोसायटी की घटना
9 की संख्या में हथियार बंद नकाबपोश डकैत ने दी वारदात को अंजाम
घर मालिक राजेश कुमार सिंह के साथ मारपीट भी किया
सोने-चांदी के आभूषण, 40 हजार नगद समेंत कुल 6 लाख की संपत्ति लूटी
सचिन मिश्रा,
आदित्यपुर। हथियार बंद डकैतो ने आरआइटी थानाक्षेत्र के एनआइटी को-ऑपरेटिव सोसायटी राजेश कुमार सिंह के घर रविवार तड़के तीन बजे सुबह डकैती की वारदात को अंजाम दिया है। टीमकेन कंपनी के अधिकारी सह एनआइटी को-ऑपरेटीव सोसायटी के सचिव राजेश कुमार सिंह, उनकी पत्नी और बेटी को बेडरूम में रस्सी से बांधकर डकैतो ने करीब एक घंटे तक लूटपाट किया। इस दौरान सोने चांदी के आभूषण, 40 हजार नगद समेंत 6 लाख रूपये की संपत्ति लूिक्टकर फरार हो गये। इसके बाद पिडि़त परिवार ने अपने रिश्तेदारो को फोन  किया, जिनकी मदद से आरआइटी पुलिस को सूचित किया गया। पिडि़त परिवार के अनुसार पुलिस को सूचना प्राप्त होने के 35 मिनट के बाद मौका-ए-वारदात पर पहुंची, जबकि आरआइटी थाना से वारदात स्थल की दुरी महज 200 मीटर की है। भागते वक्त डकैतो के हाथ से एक तलवार छुट गया। जबकि 5  सौ के कई नोट घर के बाहर मिले।
घर की खिड़की को तोड़कर किया प्रवेश
डकैत घर की खिड़की को तोड़कर ग्रील को पेचकश से खोल  दिया और घर के अंदर प्रवेश कर गये। इसी दौरान राजेश की नींद खुल गई। उन्होने शोर मचाना शुरू किया कि डकैतो ने उन्हे कब्जे में ले लिया। उनकी पत्नी और बेटी को भी बांध दिया। आलमीरा से सामानो को खोजना शुरू कर दिया। राजेश फोन करने का प्रयास किये लेकिन डकैतो ने फोन छिनकर तोड़ दिया।
बंगला भाषा में बात कर रहे थे डकैत
सभी डकैत आपस में बंगला भाषा में बात कर रहे थे। वहीं गृहस्वामी राजेश को गाली गलौज करते हुए धमकी दिया कि करोड़ो के मकान में रहते हो और घर में संपत्ति नहीं है। चुपचाप कहां कहां नगद और सोना छुपा के रखा है बताओ नहीं तो जान से हाथ धो दोगे।
फ्रिज से खाने की सामना निकाल खाना भी खाया, शराब भी पी
दो डकैत पिडि़त परिवार को बंधक बनाये रखा। इस दौरान कुछ डकैत घर के बाहर प्रहरी बने रहे। बाकी सभी डकैती की वारदात को अंजाम देते रहा। इस दौरान डकैतो ने बड़े आराम से घर की फ्रिज से खाने की सामान निकालकर खाया और साथ लेकर आये शराब भी पी।
कई डकैती हुई लेकिन खुलासा नहीं
आरआइटी व आदित्यपुर थाना क्षेत्र में एक ही स्टाईल में बीते 4 वर्षो में 6 डकैती की वारदात हो चुकी है। लेकिन अबतक एक भी डकैती की घटना की खुलासा करने में पुलिस नाकाम रही है। सोसायटी में इससे पूर्व भी दो साल पहले उद्यमी निरज मिश्रा के घर इसी स्टाईल में डकैती की घटना घट चुकी है।
परिवार के लोग चिल्लाते रहे लेकिन नहीं बढ़े मदद को हाथ
पिडि़त परिवार ने बताया कि जैसे डकैत घर में प्रवेश किया तो बचाओ डकैत घूस गया कहकर राजेश , उनकी पत्नी और बेटी चिल्लाने लगी। लेकिन आसपड़ोस के लोगो की नींद नहीं खुली। वहीं तीन बजे से साढ़े चार बजे तक थाने के बगल में डकैती की वारदात की खबर से लोगो में दहशत का माहौल है।
फिंगर प्रिंट मशीन से किया गया जांच
वारदात की सूचना मिलने के बाद डीएसपी दिपक कुमार, आदित्यपुर थाना प्रभारी अरबिन्द कुमार, आरआइटी थाना प्रभारी अमरजीत प्रसाद, गम्हरिया थाना प्रभारी आदिकांत महतो मौके पर पहुंचे और जांच किया। इस दौरान फिंगर प्रिंट मशीन से फिंगर प्रिंट की जांच की गई। पुलिस आदित्यपुर रेलवे स्टेशन आदि से सटे जगहो पर जांच किया।
Local AD

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More