सहरसा-17वें दिन जिला प्रशासन और प्रतिपक्ष के नेता के संयुक्त प्रयास से आमरण अनशन समाप्त

66

पुल निगम के चार सदस्यों की टीम पुल व सड़क सर्वे के लिये पहुंची
प्रतिपक्ष के नेता डा प्रेम कुमार ने अनशनकारीयों को जूस पिला अनशन तोड़वाया
छ: माह का समय दिया गया पुल व सड़क निर्माण को
सिमरी बख्तियारपुर(सहरसा) से ब्रजेश भारती की रिपोर्ट-
अनुमंडल के सलखुआ प्रखण्ड स्थित पूर्वी कोसी तटबन्ध के अंदर फरकिया दियारा के डेंगराही घाट पर पुल निर्माण को लेकर बीते 19 फरवरी से पुल एवं सड़क की मांग को लेकर चली आ रही आमरण अनशन व धरना प्रदर्शन 17वें दिन मंगलवार देर शाम समाप्त हुआ।
बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता डॉ प्रेम कुमार व कटिहार के भाजपा विधायक तारकेश्वर प्रसाद ने डेंगराही अनशन स्थल पहुँच कर विधिवत रूप से अनशनकारियों को जूस पिला कर अनशन समाप्त कराया।
इस मौके पर डॉ प्रेम कुमार ने कहा कि पुल के लिए आगे भी जंग जारी रहेगा, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी जी से मिल कर आगे की कार्यवाई की जायेगी। उन्होनें नेजिम कहा कि आप लोगों ने जिस एकजुटता का परिचय दिया यह काबिले तारिफ है।आगे इस कार्य को अंजाम तक पहुचाने का काम आपका प्रेम कुमार जारी रखेगा।
वही कटिहार विधायक तारकेश्वर प्रसाद ने कहा कि यह मिट्टी हमसे अलग नही है इसी मिट्टी में मेरा जन्म हुआ है मैं यहां की आवो हवा से भलिभाती परिचित है।फरकिया की जनता ने जो पुल व सड़क की मांग के लिये 17 दिनों से जो जनआंदोलन छेंडा़ उसको आगे भी निर्णायक रूप देने का काम करूगां।उन्होनें कहा कि पुल व सड़क निर्माण हो के रहेंगा।
वही इससे पूर्व मंगलवार को अनशन के 17वें दिन जिला प्रशासन के आदेश पर सिमरी बख्तियारपुर एसडीओ सुमन प्रसाद साह, डीएसपी अजय नारायण यादव, बीडीओ विभेष आनंद आदि डेंगराही स्थित अनशन स्थल पहुंचे।पहुँचने के उपरांत एसडीओ और डीएसपी ने अनशनकारियों से लंबी वार्ता की। तत्पश्चात एसडीओ सुमन प्रसाद साह ने जिलाधिकारी को फोन कर अनशन स्थल की सारी स्थिति से अवगत कराया। जिसके बाद लगभग चार बजे शाम में जिलाधिकारी विनोद सिंह गुंजियाल और एसपी अश्विनी कुमार अनशन स्थल पर पहुंचे। अनशन स्थल पर पहुँचने के उपरांत उन्होंने अनशनकारियों से लगभग आधे घँटे बातचीत की और उपस्थित अनशनकारियों व ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले सत्रह दिनों से जिस मांग को लेकर यहाँ आमरण अनशन किया जा रहा था, उस मांग को सार्थक और स्पष्ट रूप से हमने उच्चाधिकारी के सामने रखने का काम किया।जिसका नतीजा है कि पुल निर्माण निगम की चार सदस्यीय वरीय अभियंताओ की टीम पुल व सड़क के सर्वे के लिए आपके यहाँ पहुँच चुकी है जो अगले कुछ दिनों तक सहरसा और खगड़िया के सीमावर्ती क्षेत्र में सड़क व पुल का सटीक सर्वे करेंगे और इनके रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्यवाई की जायेगी।
वही बिहार राज्य पुल निर्माण निगम से आई टीम में उप मुख्य अभियंता सुरेंद्र यादव, मो शमीम अहमद, वरीय परियोजना अभियंता हीरा नंद झा एवं वरीय परियोजना अभियंता खगड़िया विजय कुमार ने बताया कि पूर्वी कोसी तटबंध के खोचरदेवा बाँध के समीप से डेंगराही घाट होते हुए चिड़ैया,सरबजीता,सुगरकौल, आदि होते हुए खगड़िया जिले के सोंनमनखी घाट तक सड़क व पुल का सर्वे किया जायेगा, लगभग बाइस किलोमीटर के बीच कुल छह पुल बनेंगे जिनमे एक वृहत और बांकि लघु होंगे।
इस मौके पर सलखुआ थानाध्यक्ष तरुण कुमार तरुनेश, दर्वेश कुमार, चिड़ैया ओपी अध्यक्ष राजीव लाल पण्डित, सलखुआ पीएचसी प्रभारी अनिल कुमार सिंह, जनसंघर्ष अभियान खगड़िया के  संयोजक सुभाष चंद्र जोशी, प्रदेश अध्यक्ष महादलित विकाश मंच के रंजेश सदा, महम्मदपुर पंचायत की पूर्व मुखिया बबली सिंह,समाजसेवी एस कुमार,फरकिया पुल निर्माण संघर्ष समिति के अध्यक्ष कैलाश पासवान, पूर्व मुखिया जुगेश्वर यादव, मंच संचालक जवाहर सिंह, उदेश महतों, नेपाली बाबा,रामभरोश महतों, शम्भू साह, जीवेश पासवान,नागेश्वर चौधरी,मोहन सिंह, जगदीश सिंह, विद्यानंद सिंह, दीनानाथ पटेल, शत्रुघ्न महतों, पांडव यादव,सुनैना देवी,सीता देवी आदि मौजूद थे।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More