रांची-विराट को किसकी नज़र लग गई, 5 पारियों से जारी है फ्लॉप शो

57

रोहित विद्यार्थी।।

राची –
ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत दौरे में अपना तीसरा टेस्ट मैच रांची के जेएससीए स्टेडियम में खेल रही है. बांग्लादेश के खिलाफ दोहरा शतक लगाने के बाद विराट कोहली इस सीरीज में अब तक पूरी तरह से फ्लॉप साबित हुए हैं.वहीं, पुजारा ने भारत की ओर से इस सीरीज का पहला और करियर का 11वां शतक लगाया है.रांची टेस्ट के पहले दिन कोहली फील्डिंग करते हुए चोटिल हो गए थे. डॉक्टर ने उन्हें आराम की सलाह दी थी, लेकिन मैच तीसरे दिन वे मैदान पर बल्लेबाजी के लिए उतरे. हालांकि, उनके चेहरे और हाव-भाव से साफ पता चल रहा था कि वे अभी तकलीफ में हैं फिर भी उन्होंने बल्लेबाजी की. लेकिन रांची टेस्ट की पहली पारी में भी कैप्टन कोहली का बल्ला शांत ही रहा. मैच की पहली पारी में कोहली 23 गेंदों पर मात्र 6 रन बनाकर आउट हो गए.वैसे तो सिर्फ इस मैच में ही नहीं, बल्कि अब तक सीरीज के हर मैच में ही विराट का बल्ला खामोश रहा है. इस सीरीज की पांच पारियों में 0, 13, 12, 15 और 6 रन ही बना पाए हैं. पुणे टेस्ट में 0, 13, बेंगलुरु टेस्ट में 12, 15 और रांची टेस्ट की पहली पारी में 6 रन ही बना पाए. ऐसे में कोहली के रनों की आग उगलने वाले बल्ले से ऐसी उम्मीद नहीं की जा रही थी. कोहली का ये प्रदर्शन काफी चिंताजनक हो सकता है.गौरतलब है कि इससे पहले लगातार चार सीरीजों में विराट कोहली चार दोहरे शतक बना चुके हैं. ऐसे में विराट की इस परफॉर्मेंस पर अब सवाल भी उठने लगे हैं.
विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया ने 2016 में टेस्ट मैचों में सफलता के झंडे गाड़े थे और 2017 की शुरुआत भी बांग्लादेश के खिलाफ शानदार जीत के साथ की थी.भारत ने विराट की कप्तानी में लगातार 6 टेस्ट सीरीज पर कब्जा जमाया. वेस्टडंडीज और श्रीलंका को भारत ने उनके घर में हराकर टेस्ट सीरीज पर कब्जा जमाया था. वहीं, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और बांग्लादेश को भारत ने अपने घर में करारी मात दी. इन टेस्ट सीरीज में विराट कोहली के कप्तानी की तारीफ भी हुई.भारत ने लगातार 19 टेस्ट मैचों तक अपना अपराजेय क्रम जारी रखा, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने पुणे में रोक दिया. ऑस्ट्रेलिया ने भारत को पुणे टेस्ट मैच में 333 रनों से हराकर सभी को चौंकाते हुए दौरे की शानदार शुरुआत की. ऑस्ट्रेलिया के बाएं हाथ के युवा स्पिनर स्टीव ओकीफी ने पहले टेस्ट मैच में 71 रन देकर 12 विकेट झटके और भारतीय बल्लेबाजों को नाकों चने चबवा दिया.
विराट कोहली ने पहले टेस्ट मैच में हार के वादा किया था कि सीरीज के बाकी बचे मैचों में टीम इंडिया सुधरा हुआ प्रदर्शन करेगी और पुणे जैसा प्रदर्शन फिर नहीं देखने को मिलेगा. लेकिन, बेंगलुरु टेस्ट मैच में भी पहली पारी में भारत की बल्लेबाजी ऑस्ट्रेलिया के ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन के सामने धराशायी हो गई. उन्होंने लॉयन ने आठ विकेट लेकर भारत की पहली पारी 189 रनों पर ही खत्म कर दी.
हालांकि, बेंगलुरु टेस्ट टीम इंडिया ने जीत लिया लेकिन विराट कोहली का प्रदर्शन इस टेस्ट में भी खराब ही रहा.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More