जिंदल के लोक जनसूनवाई में हुआ हंगामा पुलिस ने चलाई लाठी

जमशेदपुर
जिंदल को लेकर पूर्वी सिंहभूम जिले के पोटका के आसनवनी में प्रदुषण बोर्ड ,राँची की ओर से आयोजित लोक जनसूनवाई में जमकर हंगामा हुआ इस दौरान जिंदल के समर्थक और विरोधी वापस मैं भीड़ गए पुलिस को इन लोगो को हटाने के लिए लाठी चार्ज भी करना पड़ा । इस लाठी चार्ज में दोनों पक्षों की ओर से कूल आठ लोगों के घायल हो गये जिनका इलाज स्थानीय अस्पताल मैं चल रहा हैं घटना के खिलाफ जहाँ ग्रामीणों में आक्रोष है वही झामूमों के जिलाअध्यक्ष रमेश हाँसदा ने इस घटना की न्यायिक जाँच की माँग करते हूए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है।
जिंदल स्टील एण्ड पावर लिमिटेड पोटका के आसनवनी में आठ मिलियन टन की क्षमता वाली स्टील प्लाँट की पर्यावरणीय स्वीकृति हेतू आज लोक जनसूनवाई पूरी हूई । इस मौके पर ग्रामीण असित महाकूड ने कहा कि बीते पाँच सालों से कम्पनी जमीन अधिग्रहण करके रखी है।जिसका समाधान जल्द निकलनी चाहिए। प्लाँट का वे स्वागत करते है लेकिन कम्पनी उचित मूआवजा व पूर्नवास नीति की घोशणा करे। इस लोक जनसूनवाई में 27लोगों के बयान कलमबंद किये गये जबकि भगदड व लाठी चार्ज की वजह से जिंदल विरोधी लोगों ने अपना पक्ष नही रखा। वहीं जिंदल स्टील एण्ड पावर लिमिटेड के महाप्रबंधक सूब्रतों दास ने लोक जनसूनवाई को सफल बताते हूए आसनअनी के ग्रामीणों के प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होने कहा कि जनता ने आसनवनी में प्लाँट लगाने के पक्ष में अपनी बाते रखी सभी लोगों ने कंपनी को सर्मथन दिया है। आसनवनी की जनता क्षेत्र के विकास के लिए जो योगदान दिया है। उसके प्रति श्री दास आभार व्यक्त किया।इस मौके पर जिंदल स्टील कम्पनी की ओर से पर्यावरण विभाग के अधिकारी ए के राव, नरेष कमूार( वीपी )महाप्रबंधक सूब्रतों दास, डीजीएम एस एन झा, जीएम अजय कमूार, डिप्टी मैनेजर प्रभात कमूार, सहायक प्रबंधक अनूप कूमार, षूम्भू व राजीव रंजन मूख्य रूप् से उपस्थित थे वही प्रदूर्शण नियंत्रण बोर्ड की ओर से क्षेत्रीय पदाधिकारी आर एन चैधरी, ए के श्रीवास्तव समेत अडिषनल एसपी षैलेन्द्र कमूार वर्णवाल, एडीसी गणेष कमूार, एसडीएम बाल किषून मूण्डा, एस डी ओ प्रेम रंजन आरिफ इकराम, वचनदेव कूजूर, व जादूगोडा थाना प्रभारी अरविन्द यादव लोक जनसूनवाई में षिरकत की।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More